दिलदार ने रिबिका की चमड़ी उतारकर 50 टुकड़े कर दिए थे: डॉक्टर बोले- ऐसा मरणोपरांत कभी नहीं किया, किडनी भी आधी थी

Total Views : 92
Zoom In Zoom Out Read Later Print

झारखंड में दिलदार ने रिबिका की हत्या के बाद उसके शरीर की चमड़ी छीलकर निकाली थी। मामा के घर हत्या करने के बाद वो अपने दोस्त के घर शव लेकर गया था। दोस्त के घर ही उसने जमीन पर काली पॉलिथिन बिछाकर रिबिका के शरीर के 50 टुकड़े किए थे।

रिबिका पहाड़िया के शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर ने भास्कर को बताया कि रिबिका की तरह जिस तरह क्रूरता हुई, उसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है। हत्यारों ने रिबिका के शरीर से चमड़ी तक छील डाली। शव के जितने छोटे-छोटे टुकड़े किए गए हैं, उसे देखकर लगता है कि काटने में 7 से 8 घंटे लगे हाेंगे।

फूलो-झानो मेडिकल कॉलेज और अस्पताल दुमका के डॉक्टरों की टीम रिबिका पहाड़िया के शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट गुरुवार तक दे देगी। टीम में तीन डॉक्टर शामिल थे। 

रिबिका की दोनों किडनियां आधी थीं
डॉक्टर ने बताया कि पोस्टमार्टम के लिए शरीर के 28 टुकड़े लाए गए थे। इनमें सिर, फेफड़ा, 7 अंगुलियां, बाएं हिस्से की पसली, पेट का हिस्सा समेत कई अंग नहीं हैं। दोनों किडनियां आधी मिलीं।

दिलदार ने अपने दोस्त के घर रिबिका के शव के टुकड़े किए थे।
दिलदार ने अपने दोस्त के घर रिबिका के शव के टुकड़े किए थे।

डॉक्टर बोले- हमने जीवन में पहली बार ऐसा पोस्टमार्टम किया
बिसरा भी ज्यादा नहीं है। बच्चेदानी मिली है, जिसे जांच के लिए संरक्षित कर लिया गया है। हड्डी, नाखून और बच्चेदानी का विसरा जांच के लिए भेजा जाएगा। हत्या दो-तीन दिन पहले की गई होगी, क्योंकि शव डि-कंपोस्ट होना शुरू हो चुका था। हमने जीवन में पहली बार ऐसा पोस्टमार्टम किया है।बड़ा खुलासा... सास मरियम निशा ने 20 हजार में भाई को दी थी रिबिका की हत्या की सुपारी

रिबिका हत्याकांड में पुलिस ने बुधवार को बड़ा खुलासा किया। बताया गया है कि आरोपी दिलदार अंसारी की मां मरियम निशा ने रिबिका की हत्या और शव ठिकाने लगाने के लिए अपने भाई मोईनुल अंसारी को 20 हजार रुपए की सुपारी दी थी।

उधर, पुलिस ने काेर्ट से बुधवार को मरियम निशा और शव के टुकड़े करने वाले दिलदार के मामा मोईनुल के दोस्त मैनुल हक मोमिन को रिमांड पर लिया। काेर्ट ने 23 दिसंबर तक दोनों को रिमांड पर रखने की अनुमति दी है। पुलिस उनसे रिबिका को मारने के कारणों को उगलवाने की कोशिश करेगी। हत्याकांड में बोरियो थाना की सब इंस्पेक्टर सुषमा कुमारी ने प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

झारखंड के साहिबगंज में 25 साल के दिलदार अंसारी ने पत्नी रिबिका पहाड़िन के 50 से ज्यादा टुकड़े किए थे। हत्या के बाद उसके शव के इलेक्ट्रिक कटर से टुकड़े किए। कुछ टुकड़े घर में छिपा दिए, जबकि अन्य टुकड़े मोहल्ले के आसपास सुनसान जगहों पर फेंके दिए।दिल्ली पुलिस ने सोमवार को दिल दहला देने वाले हत्याकांड का खुलासा किया। 18 मई यानी करीब 6 महीने पहले लिव इन पार्टनर आफताब ने अपनी 26 साल की प्रेमिका श्रद्धा की बेरहमी से हत्या कर दी। उसके शव को आरी से काटा। नया फ्रिज लाया ताकि टुकड़े उसमें रख सके और बदबू दबाने के लिए अगरबत्ती सुलगाता था।

आफताब 18 दिन तक रोज रात 2 बजे उठता और शव के टुकड़े जंगल में फेंक आता था। पुलिस ने आफताब को शनिवार को अरेस्ट किया। इसके बाद उसने श्रद्धा की हत्या की सनसनीखेज कहानी बताई। इधर, कोर्ट ने आफताब को 5 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है।